उत्तराखंड पेयजल निगम में हुए अधिशासी अभियंताओं के बंपर तबादले

देश-दुनिया
खबर शेयर करें
जनपक्ष टुडे ब्यूरो, देहरादून। उत्तराखंड पेयजल निगम में आज कई अभियंताओं को इधर-उधर किया गया है 7 अधिशासी अभियंताओं के स्थानांतरण के साथ ही 4 सहायक अभियंताओं को प्रभारी एक्सईएन बनाया गया है।
पेयजल निगम के प्रबंध निदेशक उदयराज सिंह की ओर से मंगलवार को स्थानांतरण आदेश जारी किए गए हैं। निर्माण शाखा उत्तरकाशी में कार्यरत अधिशासी अभियंता मुकेश चंद्र जोशी को केंद्रीय भंडार शाखा, देहरादून लाया गया है। उनका अगले माह रिटायरमेंट है। इसके अलावा निर्माण इकाई ऋषिकेश में कार्यरत परियोजना प्रबंधक दीपक नौटियाल को निर्माण शाखा हरिद्वार में अधिशासी अभियंता के पद पर स्थानांतरित किया गया है।
अधिशासी अभियंता केंद्रीय भंडार शाखा संदीप कश्यप को स्थानांतरित कर उन्हें निर्माण शाखा मसूरी का दायित्व दिया गया है। पेयजल निगम मुख्यालय में तैंनात अधिशासी अभियंता नवनीत कटारिया को निर्माण शाखा, नई टिहरी में अधिशासी अभियंता के पद पर स्थानांतरित किया गया है।
निर्माण शाखा हरिद्वार में कार्यरत अधिशासी अभियंता मौ. मीसम को निर्माण शाखा उत्तरकाशी भेजा गया है। निर्माण एवं अनुरक्षण इकाई (गंगा) गोपेश्वर के परियोजना प्रबंधक संजीव कुमार को निर्माण एवं अनुरक्षण इकाई (गंगा) ऋषिकेश का दायित्व दिया गया है। सुमित आनंद को विश्व बैंक इकाई देहरादून से हटाकर पेयजल निगम मुख्यालय में रिक्त अधिशासी अभियंता के पद का स्थानांतरित किया गया है।

इसके अलावा चार सहायक अभियंताओं को प्रभारी व्यवस्था के तहत अधिशासी अभियंता बनाया गया है। इनमें देहरादून शाखा में कार्यरत सहायक अभियंता अरविंद सजवाण को निर्माण इकाई ऋषिकेश का परियोजना प्रबंधक बनाया गया है। जबकि पीआईयू (अमृत)  काशीपुर में कार्यरत सहायक अभियंता राजेश कुमार गुप्ता को परियोजना प्रबंधक निर्माण इकाई पौड़ी का प्रभार सौंपा गया है। निर्माण शाखा रामनगर में कार्यरत सहायक अभियंता जगदीश चंद्र जोशी को परियोजना प्रबंधक निर्माण एवं अनुरक्षण इकाई (गंगा) गोपेश्वर का प्रभार दिया गया है। निर्माण शाखा नई टिहरी में कार्यरत सहायक अभियंता प्रभात कुमार कंसल को निगम मुख्यालय में अधिशासी अभियंता के पद का दायित्व दिया है।

2005 बैच के टाॅपर अरविंद सजवाण बने अधिशासी अभियंता

 इं. अरविंद सजवाण
पेयजल निगम प्रबंधन ने 2005 बैच के टाॅपर इंजीनियर अरविंद सजवाण को प्रभारी अधिशासी अभियंता के पद का दायित्व सौंपा गया है। वह लंबे समय से इंजीनियर्स संघ के पदाधिकारी हैं और लंबे समय से वह इंजीनियरों की लड़ाई लड़ते आ रहे हैं। वह वर्तमान में दून डिवीजन में सहायक अभियंता के पद पर कार्यरत थे। उन्हें अब अधिशासी अभियंता बनाकर निर्माण इकाई ऋषिकेश में परियोजना प्रबंधक के पद का प्रभार सौंपा गया है। डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ समेत उनके बैच के तमाम अभियंताओं ने उन्हें बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.