ब्रेकिंग: आज कैबिनेट बैठक में पेयजल कर्मियों के वेतन-पेंशन समेत लोकहित के कई निर्णय ले सकती है सरकार

उत्तराखंड कर्मचारी हलचल राजकाज
खबर शेयर करें

 

जनपक्ष टुडे ब्यूरो। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव की आचार संहिता कभी भी लागू होने की संभावना के बीच आज बुधवार को शाम पांच बजे से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में हो रही कैबिनेट की बैठक में सरकार लोक हित के कई बड़े फैसले ले सकती है। इसमें सबसे अहम उत्तराखंड पेयजल निगम और जल संस्थान के कार्मिकों को कोषागार से वेतन-पेंशन का मामला भी पारित हो सकता है।

बता दें कि पेयजल कर्मी लम्बे समय से कोषागार से वेतन-पेंशन जारी कराने की मांग करते आ रहे हैं। कल ही उनका आमरण अनशन वित्त सचिव के इस आश्वासन के बाद स्थगित हो गया है कि उनके प्रकरण को अगली कैबिनेट बैठक में रखा जाएगा।

आज कैबिनेट बैठक की सूचना मिलते ही पेयजल निगम अधिकारी कर्मचारी संयुक्त समन्वय समिति और जल संस्थान कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारी सुबह से ही सक्रिय होकर शासन में डेरा जमाए हुए है। समन्वय समिति के महासचिव विजय खाली, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अरविंद सजवाण, रामकुमार, अजय बेलवाल, धर्मेंद्र चौधरी, शौरभ शर्मा, संयुक्त मोर्चा के अध्यक्ष रमेश बिंजोला, श्याम सिंह नेगी, मंडल अध्यक्ष एवं मीडिया प्रभारी संदीप मल्होत्रा भारी ठंड के बीच दिनभर मंत्रियों से मुलाकात कर अनुग्रह-विनय करने में लगे रहे। उम्मीद जताई जा रही है कि कर्मचारी नेताओं की जी तोड़ मेहनत अवश्य रंग लाएगी।

सूत्रों की मानें तो बुधवार को मंत्रिमंडल की बैठक के मध्येनजर सुबह से ही पेयजल मंत्री बिशन सिंह चुफाल प्रकरण को कैबिनेट में रखवाने को लेकर कशरत करते रहे। उन्होंने विभागीय और शासन स्तर पर इस प्रकरण से सम्बंधित पत्रावली तैयार कर कैबिनेट में रखने के अफसरों को निर्देश दिए। मंत्री ने प्रबंधन के साथ ही सचिव और अपर सचिव पेयजल से बैठक भी की।

विभागीय सूत्रों की मानें तो पेयजल कार्मिकों को कोषागार से वेतन-पेंशन का मामला मन्त्रिमण्डल की बैठक में चर्चा के लिए रख लिया गया है। उम्मीद जताई जा रही इस पर कैबिनेट सकारात्मक निर्णय ले सकती है। यदि इस प्रकरण पर कैबिनेट लगा देती है तो पेयजल कर्मियों की वर्षों से चली आ रही वेतन पेंशन की परेशानी हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी।

इन प्रकरणों पर भी लग सकती है मंत्रिमंडल की मुहर 

– राज्य आंदोलनकारियों को सरकारी नौकरियों में 10 फीसदी क्षैतिज आरक्षण के मसले पर कैबिनेट बैठक में सरकार निर्णय ले सकती है।

 पुलिस ग्रेड पे, लोक निर्माण विभाग के संविदा कर्मचारियों और पीआरडी कर्मियों को 300 दिन रोजगार देने के प्रस्ताव पर भी मुहर लग ढकती है।

– प्रदेश में कोरोना संक्रमितों के बढ़ते मामलों पर कैबिनेट बैठक में मंथन हो सकता है।

– अतिथि शिक्षकों के भविष्य को लेकर भी सरकार कोई बड़ा निर्णय ले सकती है।

193 thoughts on “ब्रेकिंग: आज कैबिनेट बैठक में पेयजल कर्मियों के वेतन-पेंशन समेत लोकहित के कई निर्णय ले सकती है सरकार

  1. Mr Tilley says kissing, caressing, genital against and oral stimulation can all be accomplished as pleasurable whether there is an erection or not. In link to partnered going to bed, Dr Fox stresses it is something for both parties to achievement on together. “The pal may not be the agent, but they may be constituent of the solution.” Source: viagra vs cialis price

  2. I would like to thnkx for the efforts you have put in writing this blog. I am hoping the same high-grade blog post from you in the upcoming as well. In fact your creative writing abilities has inspired me to get my own blog now. Really the blogging is spreading its wings quickly. Your write up is a good example of it.

Leave a Reply

Your email address will not be published.