कांग्रेस की बैठक में हुआ जमकर हंगामा, जूते-चप्पल और हाथापाई की आई नौबत

उत्तराखंड राजनीति
खबर शेयर करें

जनपक्ष टुडे संवाददाता, पौड़ी गढ़वाल। उत्तराखंड में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जिला पंचायत के पुराने सभागार में आयोजित कांग्रेस की समीक्षा बैठक में जमकर हंगामा हुआ। बात हाथापाई की नौबत तक पहुंच गई थी। बाद में किसी तरह मामले को शांत किया गया।

आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर शुक्रवार को 0पार्टी के जिला प्रभारी नरेंद्रजीत सिंह बिंद्रा के पौड़ी आगमन पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा जिला पंचायत के पुराने सभागार में समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया था। इसी दौरान बैठक में कुछ बातों को लेकर कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए।

इस दौरान कार्यकर्ताओं में आपस में जमकर खींचतान भी होती हुई नजर आई। वहीं आक्रोशित कार्यकर्ताओं का गुस्सा इतना ज्यादा था की बैठक के दौरान हाथापाई से लेकर जूते चलने तक की घटना होती हुई दिखाई दी।

वह इस पूरे मामले मैं पौड़ी पहुंचे पर्यवेक्षक नरेंद्र जीत सिंह बिंद्रा द्वारा बताया गया कि सारे ब्लॉकों से कांग्रेस के सभी लोग यहां पहुंचे थे, जिसके बाद उनके द्वारा अपनी अपनी बातें रखी गई। उन्होंने यह भी बताया कि विवाद की कहीं पर भी कोई स्थिति नहीं आई।

यह कांग्रेस की अंदरूनी समीक्षा बैठक थी, जिसमें कार्यकर्ताओं ने अपनी बात को दमदार तरीके से रखा। ऐसे मे यह कहना कि बैठक में कोई झगड़ा हुआ है यह निराधार बात है। सभी अपनी बात रखने के लििि स्वतंत्र है। सभी की बातों को सुना भी गया।

कांग्रेस के मसूरी दीपावली स्नेह मिलन में कार्यकर्ताओं ने काटा हंगामा, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को करना पड़ा हस्तक्षेप

जनपक्ष टुडे संवाददाता, मसूरी। मसूरी में कांग्रेस पार्टी के द्वारा आयोजित दीपावली स्नेह मिलन के कार्यक्रम में कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं के द्वारा कांग्रेस नेता मेघ सिंह कंडारी को मंच ना दिए जाने को लेकर विरोध किया गया इस मौके पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में भारी आक्रोश देखा गया वही मंच का संचालन कर रहे पूर्व पालिकाध्यक्ष और प्रदेश कांग्रेस महामंत्री मनमोहन सिंह मल्ल के द्वारा कांग्रेस नेता मेघ सिंह कंडारी को तव्वजो नही देने पर कांग्रेस कार्यकर्ता ने जमकर हंगामा किया।

कांग्रेस कार्यकर्ता ने मसूरी शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव अग्रवाल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की उन्होंने कहा कि शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव अग्रवाल मसूरी में लगातार गुटबाजी पनपा रहे है जिसका जीता जागता नमूना मसूरी में आयोजित कांग्रेस के दीपावली स्नेह मिलन में देखने को मिला।

कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री मनमोहन सिंह मल्ल और कांग्रेस नेता मेघ सिंह कंडारी के बीच माइक लेने को लेकर भी झड़प हुई –इस मौके पर कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस नेताओं को अपशब्द भी कहे वहीं कांग्रेस के बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच विवाद को देखते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को हस्तक्षेप करना पड़ा और सभी को शांत रहने की नसीहत दी।

उन्होंने कहा उन्होंने कहा कि मसूरी में भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गया परंतु कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं के गलत फहमी और मतभेद के कारण कुछ विवाद हो गया उन्होंने कहा कि सब कुछ शांत हो गया है वहीं काफी देर के ड्रामे के बाद कार्यक्रम को सुचारू रूप से संचालित किया गया।

कार्यक्रम में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच उठे विवाद से साफ है कि मसूरी में कांग्रेस पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं के बीच खींचतान साफ तौर पर नजर आ रही है जिसका नतीजा उनको 2022 में भुगतना पड़ सकता है ऐसे में प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के सामने मसूरी में खुलकर आई गुटबाजी का लेकर दोनों नेताओं काफी नाखुश दिखे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.