सियाचीन में उत्तराखंड का एक और जवान शहीद, सीएम धामी ने शहीद के गांव पौड़ी पहुंच कर दी जवान को श्रद्धांजलि

उत्तराखंड देश-दुनिया
खबर शेयर करें

 

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर घोषणा,  शहीद के गांव जाने वाला मोटर मार्ग धारकोट- इठूड का नाम और राजकीय इंटर कॉलेज चम्पेश्वर का नाम शहीद विपिन सिंह गुसाईं के नाम पर रखा जाएगा 

जनपक्ष टुडे संवाददाता, पौड़ी गढ़वाल। देश की रक्षा करते हुए उत्तराखंड का एक और लाल सियाचीन में शहीद हो गया। धारकोट, पौड़ी गढ़वाल निवासी, 57 बंगाल इंजीनियरिंग के जवान विपिन सिंह गुसाईं के शहीद होने की खबर के बाद क्षेत्र में शोक की लहर है।

मंगलवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सियाचिन में अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए शहीद हुए धारकोट, पौड़ी निवासी, 57 बंगाल इंजीनियरिंग के जवान विपिन सिंह गुसाईं के घर पर जाकर उनकी देह पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है। मुख्यमंत्री ने कहा की शहीद के परिजनों को राज्य सरकार द्वारा हर संभव मदद दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर घोषणा की कि शहीद के गांव जाने वाला मोटर मार्ग धारकोट- इठूड का नाम तथा राजकीय इंटर कॉलेज चम्पेश्वर का नाम शहीद विपिन सिंह गुसाईं के नाम पर की जाएगी।

सैनिक कल्याण मंत्री  गणेश जोशी, स्वास्थ्य एवं उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, जिलाधिकारी पौड़ी डॉ. विजय कुमार जोगदंडे ने भी शहीद जवान विपिन सिंह को पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी है।

9 thoughts on “सियाचीन में उत्तराखंड का एक और जवान शहीद, सीएम धामी ने शहीद के गांव पौड़ी पहुंच कर दी जवान को श्रद्धांजलि

  1. Other breast pathology, including mastitis and breast abscesses, will be accompanied by a patient complaining of significant pain with palpable fluctuance in the case of an abscess priligy usa To have the same patients included in comparisons across assessment methods, all further examinations were restricted to this group of 673 patients, all of whom had IHC stain for ER and or PgR

  2. duloxetine universalpetmeds doxycycline 14 In general, these interventions have focused on testing novel methods for presenting trade offs or risk information to improve decision making rather than providing comprehensive information

  3. I was just seeking this info for a while. After six hours of continuous Googleing, finally I got it in your web site. I wonder what’s the lack of Google strategy that do not rank this type of informative sites in top of the list. Usually the top websites are full of garbage.

Leave a Reply

Your email address will not be published.