नरकोटा पुल हादसा मामले में पीडब्ल्यूडी के 2 इंजीनियर सस्पेंड, एक्सईएन मुख्यालय अटैच

उत्तराखंड क्राइम राजकाज
खबर शेयर करें

 

– नरकोटा पुल हादसा मामले में सरकार ने लिया बड़ा एक्शन

– 20 जुलाई को पुल की शटरिंग गिरने से हुई थी 2 मजदूरों की मौत

जनपक्ष टुडे ब्यूरो, देहरादून। उत्तराखंड शासन ने रुद्रप्रयाग के नरकोटा में ऑल वेदर रोड के निर्माणाधीन पुल हादसे मामले में राष्ट्रीय राजमार्ग खंड पीडब्ल्यूडी श्रीनगर गढ़वाल के सहायक अभियंता के साथ ही कनिष्ठ अभियंता को सस्पेंड किया है, जबकि एक अधिशासी अभियंता को अटैच कर दिया गया है।

बता दें कि 20 जुलाई को नरकोटा में निर्माणाधीन पुल की सटरिंग गिरने से 2 मजदूरों की मौत हो गई थी, जबकि 6 घायल हो गए थे। मुख्यमंत्री ने मामले के जांच के आदेश दिए थे। प्रमुख अभियंता अयाज अहमद की तरफ से सौंपी गई रिपोर्ट में अभियंताओं पर निर्माणाधीन पुल की नियमित तौर पर मानिटरिंग नहीं करने का आरोप है।

प्रमुख सचिव पीडब्ल्यूडी आरके सुधांशु के निर्देश पर सहायक अभियंता राजीव शर्मा को सस्पेंड कर पौड़ी कार्यालय से संबद्ध कर दिया है, जबकि जेई रवि कोठियाल को देर शाम प्रमुख अभियंता ने संस्पेड किया है। अधिशासी अभियंता बलराम मिश्रा को मुख्यालय से संबंद्ध किया है। वहीं, रुद्रप्रयाग के अधिशासी अभियंता निर्भय सिंह को श्रीनगर की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है।

प्रमुख सचिव आरके सुधांशु ने कहा कि, इंजीनियरों को निर्देश दिए गए हैं कि समय-समय पर निर्माण कार्यों का परीक्षण करें। ऐसा नहीं करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

2 thoughts on “नरकोटा पुल हादसा मामले में पीडब्ल्यूडी के 2 इंजीनियर सस्पेंड, एक्सईएन मुख्यालय अटैच

Leave a Reply

Your email address will not be published.