उत्तराखंड पेयजल निगम में 4 प्रभारी एक्सईएन हुए अधिशासी अभियन्ता के पदों पर पदोन्नत, डीपीसी के बाद प्रबन्ध निदेशक ने किए आदेश जारी

उत्तराखंड कर्मचारी हलचल
खबर शेयर करें

 

जनपक्ष टुडे संवाददाता, देहरादून। उत्तराखंड पेयजल निगम में लम्बे समय से प्रतीक्षारत वरिष्ठ सहायक अभियंताओं की शनिवार को शासन स्तर पर डीपीसी सम्पन्न हो गई है। डीपीसी के बाद 4 सहायक अभियंता (सिविल) और प्रभारी अधिशासी अभियन्ताओं को अधिशासी अभियन्ता के स्थायी पदों पर पदोन्नति आदेश जारी कर दिए गए हैं। सभी प्रोन्नत अभियंताओ को कार्यरत स्थलों पर ही विधिवत रूप से तैनाती के निर्देश जारी किए गए हैं।

उत्तराखंड पेयजल निगम में शनिवार को सहायक अभियंता से अधिशासी अभियंता के रिक्त पदों के लिए डीपीसी आयोजित की गई। डीपीसी में साहयक अभियन्ता (सिविल) के 4 इंजिनियरों को अधिशासी अभियंता के स्थायी पदों पर ग्रेड पे 6600 सातवें वेतनमान में बैंड ग्रेड पे लेवल-11 के अंतर्गत 15600-39100 में पदोन्नति दी गई। हालांकि ये इंजीनियर इस वेतनमान से ऊपर की तनख्वाह ले रहे हैं और ये सभी इंजीनियर प्रभारी अधिशासी अभियंता के तौर पर दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं।

पदोन्नत अभियन्ताओं में निर्माण विंग देहरादून में कार्यरत प्रोजेक्ट मैंनेजर केएम सिंह तोपवाल, निर्माण विंग चंबा में कार्यरत प्रोजेक्ट मैनेजर आरएस गुप्ता, निर्माण शाखा उत्तरकाशी में कार्यरत मुकेश चन्द्र गुप्ता और दून शाखा देहरादून में कार्यरत प्रभारी अधिशासी अभियंता हेम चन्द्र जोशी शामिल है। ये अभियन्ता अभी तक प्रभाश्री व्यवस्था के तौर पर अधिशासी अभियंता के दायित्वों निर्वहन कर रहे थे, लेकिन आज के बाद वह पूर्ण रूप से अधिशासी अभियन्ता का दायित्व देखेंगे। डीपीसी के बाद प्रोन्नत सभी अभियन्ताओं को कार्यरत शाखाओं में ही अधिशासी अभियंता के पदों पर तैनाती के आदेश दिए गए हैं। आदेश में खास गया है सभी अभियन्ताओं की पदोन्नति तैनाती स्थानीय होने के कारण किसी को बि यात्रा भत्ता देय नहीं होगा।

उधर, अभी भी निगम में अधिशासी अभियंता और अधीक्षण अभियन्ता के कई पड़ रिक्त हैं। जिन पर जल्द डीपीसी की उम्मीद जताई जा रही है। शनिवार को डीपीसी के बाद इसी दिन प्रबन्ध निदेशक उदयराज सिंह ने पदोन्नति आदेश करके चौंका दिया। ऐसा निगम में पहली बार हुआ है। इसकी सराहना भी की जा रही है। साथ ही यह मांग उठ रही है कि जिस गति से शनिवार को डीपीसी और डीपीसी के बाद तत्काल आदेश जारी किए गए उसी तरह पदोन्नति के लिए पात्र अन्य अभियन्ताओं की भी रिक्त पदों के सापेक्ष पदोन्नति की कार्रवाई की जाए। यह भी बता दें कि शनिवार को पदोन्नत हिये चार में से तीन अभियन्ताओं का अगले साल रिटायरमेंट है।

 

1 thought on “उत्तराखंड पेयजल निगम में 4 प्रभारी एक्सईएन हुए अधिशासी अभियन्ता के पदों पर पदोन्नत, डीपीसी के बाद प्रबन्ध निदेशक ने किए आदेश जारी

  1. Thank you for sharing superb informations. Your website is very cool. I am impressed by the details that you?¦ve on this web site. It reveals how nicely you perceive this subject. Bookmarked this website page, will come back for more articles. You, my pal, ROCK! I found simply the info I already searched all over the place and just couldn’t come across. What a great website.

Leave a Reply

Your email address will not be published.