दुःखद: टिहरी में घर के आंगन में पूजा कर रहे व्यक्ति पर गुलदार ने हमला कर मार डाला

उत्तराखंड क्राइम
खबर शेयर करें

 

– गुलदार ने हमले के बाद व्यक्ति को घसीटते हुए करीब तीन किलोमीटर दूर जंगल मे ले गया, जानकारी होने के बाद ग्रामीणों ने ढूंढा शव

जनपक्ष टुडे ब्यूरो, नई टिहरी। उत्तराखंड में जंगली जानवरों का आतंक अक्सर देखने को मिलता रहा है। गुलदार की दहशत में सहमे टिहरी के नरेंद्रनगर ब्लाॅक के पसर गांव में आज सुबह एक ऐसा ही दुःखद मामला सामने आया। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के लिए सोमवार को मतदान के उत्साह के बीच दुःखद खबर आई है। गुलदार ने घर के ही आंगन में पूजा-अर्चना कर रहे एक व्यक्ति पर हमला कर दिया। इसके बाद गुलदार व्यक्ति को जंगल की ओर घसीटकर ले गया। आस-पास के लोगों को इसकी सूचना मिली तो वह निशान देखते हुए जंगल तक पहुंचे जहां व्यक्ति का शव पड़ा हुआ था।

जानकारी के अनुसार धामन्दस्यू पट्टी के पसर गांव में पिछले लंबे समय से गुलदार सक्रिय है। आज सोमवार की सुबह पसर गांव निवासी राजेंद्र सिंह उर्फ भगत घर के आंगन में पूजा-अर्चना के बाद सूर्य अर्घ्य चढ़ा रहे थे। इसी दौरान गुलदार ने उन पर हमला बोल दिया। गुलदार उन्हें घसीट कर ले गया। स्थानीय निवासी सुरेंद्र सिंह भंडारी ने बताया कि राजेंद्र सिंह उर्फ भगत घर में अकेले रहते थे।

घटना के बाद आस-पास के ग्रामीण एकत्रित हुए और राजेंद्र सिंह की खोजबीन की गई। घर से करीब तीन किलोमीटर दूर जंगल में राजेंद्र सिंह का शव काफी खोजबीन के बाद बरामद हुआ। ग्रामीण सुरेंद्र सिंह भंडारी ने बताया कि क्षेत्र में पिछले लंबे समय से गुलदार सक्रिय है। गुलदार कई व्यक्तियों पर हमला कर चुका है।

बताया कि एक दिन पहले की रात भी गुलदार ने पसर गांव में स्थानीय निवासी वीर सिंह पर हमला किया था। इससे वह घायल हो गए। 28 जनवरी को भी गुलदार ने गांव के समीप ही एक महिला को मार डाला था। उन्होंने बताया कि आदमखोर गुलदार के सक्रिय होने से लोग बच्चों को भी स्कूल भेजने से कतरा रहे हैं। उन्होंने वन विभाग से इलाके में गस्त बढ़ाने, पिंजरा लगाने या फिर आदमखोर गुलदार को मारने के आदेश देने की मांग की है।

 

11 thoughts on “दुःखद: टिहरी में घर के आंगन में पूजा कर रहे व्यक्ति पर गुलदार ने हमला कर मार डाला

Leave a Reply

Your email address will not be published.