सफलता: आइस स्केटिंग एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के खिलाड़ियों ने 7 मेडल जीत कर किया उत्तराखंड का नाम रोशन

उत्तराखंड शिक्षा-खेल
खबर शेयर करें

 

– देहरादून में बंद पड़ा है आइस रिंग, नहीं मिल रहा है इसका खिलाड़ियों को कोई लाभ, खेल विभाग से लेकर, खेल सचिव, खेल मंत्री और मुख्यमंत्री तक लगा चुके हैं खिलाड़ी गुहार, नहीं ले रहा कोई शुद्ध

जनपक्ष टुडे ब्यूरो, देहरादून। आइस स्केटिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया के तत्वाधान में गुरुग्राम में 30 से 31 दिसंबर 2021 को आयोजित 17th राष्ट्रीय फिगर स्केटिंग प्रतियोगिता के लिए आइस स्केटिंग एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड की ओर से प्रतियोगिता में भाग लेने गए सभी 7 खिलाड़ियों ने अपनी-अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाते हुए 7 मेडल जीत उत्तराखंड की झोली में डाले।

आइस स्केटिंग एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड की ओर से सभी खिलाड़ियों ने फिगर स्केटिंग की सोलो स्केटिंग के अपने-अपने आयु वर्ग में भाग लिया और देश भर के तकरीबन 60 खिलाड़ी के बीच टक्कर लेते हुए जीत दर्ज कर राज्य का नाम रोशन किया। जहां आदर्श रावत और हर्षिता ने अपने-अपने वर्ग में प्रथम स्थान प्राप्त किया अपूर्वा सिंह ने द्वितीय स्थान एवं आयुष जगूड़ी और युवराज सिंह गुलाटी तनिष्का सिंह, यशस्वी सिंह ने फिगर स्केटिंग वर्ग में तृतीय स्थान बनाकर उत्तराखंड का नाम रोशन किया।

राष्ट्रीय फिगर स्केटिंग प्रतियोगिता में भाग लेकर लौटे राज्य के खिलाड़ियों को बधाई देते हुए आइस स्केटिंग एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के अध्यक्ष शिव पैन्यूली ने बताया कि आज स्केटिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया की ओर से गुरुग्राम के आईस रिंग में आयोजित इस प्रतियोगिता के अंतर्गत राज्य एसोसिएशन से भेजे गए सभी सात खिलाड़ियों ने फिगर स्केटिंग की सोलो प्रतियोगिता के विभिन्न आयु वर्ग में भाग लिया। वह देश के विभिन्न राज्यों से आए प्रतिभागियों के बीच टक्कर लेते हुए उम्मीद से कहीं अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि देशभर के उम्दा खिलाड़ियों के बीच टक्कर लेते हुए राज्य के इन खिलाड़ियों ने उत्तराखंड के आइस स्केटिंग के खेल के मैदान के बगैर ही मैदान मारा है, इसके लिए वे विशेष शाबाशी के हकदार हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य के युवाओं में इस खेल के प्रति जो आकर्षण है उसी की वजह से आज राज्य में श्रेया और निष्ठा जैसे अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी हमारे पास हैं और इन्हीं से प्रेरणा पाकर राज्य के युवा इस खेल की ओर बड़ी तादाद में आकर्षित हो रहे हैं और राष्ट्रीय मंच पर अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। वर्तमान तक उत्तराखंड के खिलाड़ियों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 6 और राष्ट्रीय स्तर पर 50 पदक हासिल कर चुके हैं।

राजधानी देहरादून में एशिया क्षेत्र का सबसे बड़ा और अंतरराष्ट्रीय स्तर का आईस रिंग  होने के बावजूद यहां के खिलाड़ियों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। फिर भी खिलाड़ी राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदक हासिल कर देश और राज्य का नाम रोशन कर रहे हैं। उन्होंने आशा व्यक्त की है कि यदि उत्तराखंड सरकार स्पोर्ट्स कॉलेज देहरादून स्थित आइस स्केटिंग रिंक को शीघ्र खुलाखुला कर इन खिलाड़ियों को निशुल्क खेल सुविधाएं प्रदान करवा दे तो निश्चय ही यहां के खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय खेल स्पर्धाओं में चमक पैदा करने की क्षमता रखते हैं और राज्य के लिए अंतरराष्ट्रीय मेडल लाने में सक्षम हैं। उन्होंने बताया कि इस आइस रिंक को खुलवाने बाबत कई बार राज्य के मुख्यमंत्री, खेल मंत्री और मुख्य सभी सचिव से मांग की जा चुकी है, लेकिन कोई भी इस मांग जे प्रति संजीदा नहीं है, जिससे खिलाड़ी मायूस हैं।

1 thought on “सफलता: आइस स्केटिंग एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के खिलाड़ियों ने 7 मेडल जीत कर किया उत्तराखंड का नाम रोशन

Leave a Reply

Your email address will not be published.