इंसानियत शर्मसार: चमोली जिले के मानमती गांव में कलयुगी बेटे ने डंडे से पीट-पीटकर ‘मां’ की हत्या कर डाली

उत्तराखंड क्राइम देश-दुनिया
खबर शेयर करें

 

जनपक्ष टुडे संवाददाता, चमोली गढ़वाल। उत्तराखंड के चमोली जिले में देवाल ब्लॉक में इंसानियत को शर्मशार करने वाली घटना सामने आई है। एक बेटे ने अपनी मां की डंडे से पीटकर हत्या कर दी। राजस्व पुलिस ने हत्यारोपी बेटे को गिरफ्तार कर शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। राजस्व पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।

चमोली जिले में देवाल ब्लॉक के मानमती गांव में एक बेटे ने अपनी मां की डंडे से पीटकर हत्या कर दी। किसी बात पर मां के समझाने पर बेटे को गुस्सा आ गया और उसने अपनी मां को डंडे से पीटकर मार डाला। राजस्व पुलिस ने हत्यारोपी बेटे को गिरफ्तार कर शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। राजस्व पुलिस ने मामले में आरोपी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।

बताया जा रहा है कि कलम राम (27) पुत्र मेहरवान राम घेस गांव में मजदूरी करता है। 26 तारीख को वह घेस से अपने गांव पहुंचा। 27 जनवरी की शाम पांच बजे किसी बात पर कलम राम की अपनी मां चंपा देवी से बहस हो गई। मां ने उसे समझाया तो कलम राम को गुस्सा आ गया और वह मां को डंडे से मारने लगा। कलम राम ने इतना मारा कि चंपा देवी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

बताया गया कि घटना के समय कलम राम की तीन साल की बेटी व भाई की पत्नी उर्मिला देवी घर पर थी मां की हत्या करने के बाद कलम राम घर से फरार हो गया था। शनिवार को राजस्व पुलिस ने कलम राम को लौसरी गांव के पास दबोचा। नायब तहसीलदार अर्जुन बिष्ट ने बताया कि कलम राम के भाई की पत्नी उर्मिला देवी की ओर से दी गई तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मेडिकल और कोरोना जांच के बाद आरोपी को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

229 thoughts on “इंसानियत शर्मसार: चमोली जिले के मानमती गांव में कलयुगी बेटे ने डंडे से पीट-पीटकर ‘मां’ की हत्या कर डाली

  1. Nowhere in the Bible is masturbation explicitly forbidden. There is good common sense payment this because the refractory does not common knowledge from masturbation, which is in itself neither good or bad, but the adulterous voluptuous fantasies that go along with it, as Christ makes perspicuous in Matthew 5:28. Source: what is cialis taken for

  2. Innumerable cases of it rejoin warmly to lifestyle changes, medications, surgery, or other treatments. Unvarying if your efforts to care for ED are unsuccessful, you and your cohort can still make merry bones intimacy and a satisfying physical life. Source: generic tadalafil

Leave a Reply

Your email address will not be published.