सैनिक स्कूल नैनीताल के 19 छात्र बने भारतीय सेना में अफसर

उत्तराखंड देश-दुनिया शिक्षा-खेल
खबर शेयर करें

नैनीताल: राजधानी देेेहरादून स्थित आईएमए में हुई पासिंग आउट परेड में भारतीय सेना में युवा शामिल हुए हैं। एक बार फिर उत्तराखंड के नैनीताल जिले में स्थित सैनिक स्कूल घोड़ाखाल के पूर्व में रहे छात्रों ने नाम रौशन किया है। पासिंग आउट परेड में सैनिक स्कूल घोड़ाखाल के 19 भूतपूर्व छात्र भी शामिल हुए। भारतीय सेना को युवाओं की फौज देने में घोड़ाखाल स्कूल का नाम टॉप पर शामिल रहता है।

पासिंग आउट परेड को लेकर स्कूल की प्रधानाचार्य कर्नल डॉ. स्मिता मिश्रा ने बताया कि भूतपूर्व छात्र अविनाश यादव 2014 में विद्यालय से पासआउट हुए थे। मोहित भट्ट एवं भगत सिंह 2015 में उत्तीर्ण हुए थे, अजय मिश्रा एवं अंकित बडोनी 2016, मनोज बोरा, नवीन पंत, यश चौधरी, अनुज चौधरी, राजेंद्र आर्या, यथार्थ अग्रवाल, पार्थ भट्ट, भरत फर्स्वाण, कार्तिकेय गुप्ता, आयुष चौधरी, अनंत पांडे, संगम त्यागी, जगमोहन सिंह एवं देवेश जोशी 2017 बैच के छात्र हैं।

परेड में चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ बैनर डोगराई कंपनी को मिला। जिसे कंपनी की ओर से विद्यालय के भूतपूर्व छात्र रहे अंकित बडोनी ने ग्रहण किया। उन्होंने पूरे स्कूल की ओर से सभी छात्रों को शुभकामनाएं दी। भारतीय सेना और घोड़ाखाल स्कूल का नाता काफी पुराना है। सेना के बड़े पदों पर काबिज़ कई ऑफिसर इसी स्कूल से पढ़कर निकले हैं। उत्तराखंड में सैकड़ों की तादत में युवा स्कूल में प्रवेश पाने के लिए कोचिंग का सहारा भी लेते हैं।

बता दें कि देहरादून में इंडियन मिलिट्री एकेडमी की पासिंग आउट परेड हुई। ये परेड ऐतिहासिक चेटवुड भवन के सामने ड्रिल स्क्वायर पर शुरू हुई। पासिंग आउट परेड में 425 कैडेट्स शामिल हुए। इन कैडेट्स में 9 मित्र देशों के 84 कैडेट्स भी शामिल थे।

12 thoughts on “सैनिक स्कूल नैनीताल के 19 छात्र बने भारतीय सेना में अफसर

  1. I was just seeking this information for a while. After 6 hours of continuous Googleing, at last I got it in your web site. I wonder what’s the lack of Google strategy that do not rank this type of informative sites in top of the list. Generally the top websites are full of garbage.

Leave a Reply

Your email address will not be published.