सरकार ने लिया फैसला, नर्सिंग भर्ती परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को मिलेगी निशुल्क बस सेवा और ठहरने की सुविधा

उत्तराखंड रोजगार
खबर शेयर करें

देहरादून। उत्तराखंड में नर्सों के 2621 पदों पर भर्ती की परीक्षा तिथि जारी कर दी गई है। स्वास्थ्य विभाग से पत्र मिलने के बाद परिषद ने नर्स भर्ती परीक्षा के लिए 28 मई की तिथि तय की है। यह परीक्षा देहरादून में 17 और हल्द्वानी में 10 केंद्रों पर आयोजित की जाएगी। परीक्षा सुबह 10 बजे से 1 बजे तक होगी। प्रवेश पत्र आज जारी किए जाएंगे।

प्राविधिक शिक्षा परिषद के संयुक्त सचिव मुकेश पांडेय ने बताया कि कुल 2621 पदों के लिए 9001 उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। जिनमें उत्तराखंड से बाहर के राज्यों के भी उम्मीदवार शामिल हैं। सभी उम्मीदवारों के लिए अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने परिवहन निगम को पत्र भेजकर बसों के संचालन की जिम्मेदारी सौंपी है।

देहरादून और नैनीताल के जिलाधिकारी को और मुख्य सचिव तकनीकी शिक्षा राधा रतूड़ी ने देहरादून और नैनीताल के डीएम को पत्र भेजकर बाहर से आने वाले उम्मीदवारों के ठहरने का इंतजाम करने को कहा है। वैसे तो कोविड काल में बोर्ड, विवि और तमाम भर्ती परीक्षाएं स्थगित हैं लेकिन नर्सों की कमी दूर करने के लिए सरकार विशेषतौर पर यह परीक्षा आयोजित कराने जा रही है।

प्रवेश पत्र और फोटो आईडी है कर्फ्यू पास

अगर किसी भी जगह पर कोरोना कर्फ्यू लगा हुआ होगा तो स्टाफ नर्स भर्ती के उम्मीदवारों के लिए विशेष छूट दी जाएगी। अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, उम्मीदवार का प्रवेश पत्र और फोटो आईडी ही उसका कर्फ्यू पास माना जाएगा। इस आधार पर उन्हें आवागमन में राहत दी जाएगी।

परीक्षा केंद्र तक चलेंगी रोडवेज की बसें निशुल्क 

शासन ने उत्तराखंड परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक को निर्देश दिए हैं कि वह परीक्षा के दिन उम्मीदवारों के दून, हल्द्वानी बस स्टैंड या रेलवे स्टेशन से परीक्षा केंद्र के बीच रोडवेज बसें संचालित करें, ताकि उम्मीदवारों को अपने परीक्षा केंद्र तक पहुंचने में किसी तरह की भी परेशानी न हो। ये बसें निशुल्क मुहैया होंगी।

देहरादून और नैनीताल के सबसे ज्यादा उम्मीदवार

परीक्षा के लिए पंजीकृत उम्मीदवारों में देहरादून और नैनीताल के सबसे अधिक हैं। देहरादून के 2673 और नैनीताल के 1222 उम्मीदवार पंजीकृत हैं। इसके अलावा चमोली के 280, हरिद्वार के 759, पौड़ी के 465, रुद्रप्रयाग के 159, टिहरी के 372, उत्तरकाशी के 321, अल्मोड़ा के 477, बागेश्वर के 262, चंपावत के 126, पिथौरागढ़ के 723 और ऊधमसिंह नगर के 759 उम्मीदवारों ने आवेदन किया है।

इन राज्यों से भी शामिल होंगे परीक्षार्थी

उत्तर प्रदेश के 165, दिल्ली के 156, हरियाणा के 31 और पंजाब से 16 उम्मीदवारों ने भी आवेदन किया है। इसके अलावा राजस्थान से दस, हिमाचल से छह, चंडीगढ़ और महाराष्ट्र से पांच-पांच, मध्य प्रदेश से चार, छत्तीसगढ़ से तीन, आंध्र प्रदेश, बिहार और कर्नाटक से दो-दो, उड़ीसा और तमिलनाडु से एक-एक उम्मीदवार ने आवेदन किया हुआ है।

15 thoughts on “सरकार ने लिया फैसला, नर्सिंग भर्ती परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को मिलेगी निशुल्क बस सेवा और ठहरने की सुविधा

  1. Today, while I was at work, my sister stole my iphone and tested to see if it can survive a 30 foot drop, just so she can be a youtube sensation. My apple ipad is now destroyed and she has 83 views. I know this is completely off topic but I had to share it with someone!

  2. I wanted to write a simple remark to express gratitude to you for these amazing tricks you are giving out at this site. My time-consuming internet look up has now been recognized with good facts and strategies to share with my neighbours. I ‘d repeat that we visitors actually are undoubtedly lucky to be in a great website with so many awesome individuals with interesting principles. I feel quite happy to have seen your entire weblog and look forward to plenty of more thrilling times reading here. Thanks a lot once more for all the details.

  3. An impressive share, I just given this onto a colleague who was doing a little analysis on this. And he in fact bought me breakfast because I found it for him.. smile. So let me reword that: Thnx for the treat! But yeah Thnkx for spending the time to discuss this, I feel strongly about it and love reading more on this topic. If possible, as you become expertise, would you mind updating your blog with more details? It is highly helpful for me. Big thumb up for this blog post!

Leave a Reply

Your email address will not be published.