लच्छीवाला टोल प्लाजा पर टोल को लेकर भारी हंगामा, विरोध के बाद भी चलता रहा टोल का काम, हाईवे पर लगा लम्बा जाम

उत्तराखंड देश-दुनिया
खबर शेयर करें

देहरादून। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में प्रवेश करने के लिए आज से टोल टैक्स शुरू जर दिया गया है। हरिद्वार हाईवे पर बने लच्छीवाला टोल प्लाजा पर गुरुवार से बिना शुल्क आवाजाही नहीं हो सकेगी। टोल से आवाजाही करने के लिए फास्टैग को अनिवार्य कर दिया गया है |

उधर, भारी विरोध के बाद आज खुले टोल प्लाजा में पहले दिन ही फास्टैग की वजह से यहां ट्रैफिक धीमा हो गया। लोगों को काफी देर तक अपनी बारी का घंटों इंतजार करना पड़ा और टोल प्लाजा पर लंबी लाइन लग गई। विभागीय अधिकारी पूरे दिन टोल की व्यवस्थाओं को पुख्ता बनाने में ही जुटे रहे।

कांग्रेस, उत्तराखंड क्रांति दल, स्थानीय टैक्सी चालक और आम लोग टोल प्लाजा के विरोध में सुबह से ही टोल प्लाजा पहुंच कर नारेबाजी करने लगे। हालांकि स्थानीय लोगों को वाहनों के साथ जाने दिया गया, केवल बाहर से आने वाले वाहनों से टोल लिया गया। कई बार विभागीय अधिकारियों, टोल एजेंसी के कर्मचारियों और पुलिसकर्मियों से प्रदर्शनकारियों की नोकझोंक भी हुई। कांग्रेस नेता भारत भूषण ने सिर मुंडवा कर विरोध जताया।

राजधानी देहरादून में अब आने-जाने वाले वाहन बिना टोल दिए आवाजाही नहीं कर सकेंगे। हाईवे पर सफर करने के लिए अब वाहनों को शुल्क अदा करना पड़ेगा। टोल प्लाजा से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक टोल के संचालन के लिए ट्रायल पूरा कर लिया गया है।

बताया कि टोल बैरियर पर आने और जाने के लिऐ पांच-पांच लेन तैयार हैं। सभी लेन से फास्टैग के जरिए ही आवाजाही संभव हो सकेगी। नई नीति के तहत बिना फास्टैग के आने जाने वालों को दोगुना शुल्क देना होगा। देर शाम तक नेशनल हाईवे के अधिकारी व्यवस्थाओं को अंतिम रूप देने में जुटे रहे थे।

एनएचएआई के टेक्नीकल इंजीनियर अंशुल शर्मा के अनुसार बिना फास्टैग के आने जाने वाले वाहनों से दोगुना शुल्क लिया जाएगा। 20 किमी के दायरे में आने वाले लोगों को सहूलियत देने का प्रावधान है। वाहन चालकों से फास्टटैग लेने के लिए अपील किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सुविधा के लिए एनएचएआई की वेबसाइट से भी फास्टटैग ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.