यूपी के बाद उत्तराखंड ने भी रोका अंतर्राज्यीय बस संचालन

उत्तराखंड कोरोना वायरस
खबर शेयर करें

देहरादून। कोरोना कर्फ्यू के चलते उत्तर प्रदेश के बाद उत्तराखंड ने भी एक राज्य से दूसरे राज्य में रोडवेज की अंतरराज्यीय बस संचालन को रोक दिया गया है। अब उत्तराखंड रोडवेज की रोडवेज बसों को भी राज्य के भीतर ही चलाया जाएगा।

बता दें कि दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब व राजस्थान के साथ रोडवेज बस संचालन बंद होने के बाद अब चंडीगढ़ व हिमाचल के साथ भी संचालन बंद हो गया है। शनिवार 8 मई से उत्तर प्रदेश ने अपने सीमा क्षेत्र में किसी भी राज्य की रोडवेज बसों के संचालन पर रोक लगा दी थी।

देहरादून और हरिद्वार की तरफ से कुमाऊं और दूसरे राज्य जाने वाली बसों को उत्तर प्रदेश पुलिस ने वापस लौटा दिया था। इसके बाद केवल हिमाचल और चंडीगढ़ के लिए यात्रियों की उपलब्धता के आधार पर चुनिंदा बसों का संचालन किया जा रहा था, लेकिन बुधवार से इसे भी बंद कर दिया गया।

अब उत्तराखंड रोडवेज की बसें केवल प्रदेश के भीतरी मार्गों पर चलाई जाएंगी। बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर उत्तर प्रदेश ने अपने सीमा क्षेत्र में दूसरे राज्यों की रोडवेज बसों के संचालन पर प्रतिबंध लगा दिया था। इस कारण शनिवार से उत्तराखंड रोडवेज की लगभग साढ़े आठ सौ बसों के पहिये थम गए थे।

उत्तराखंड से जो भी बसें दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान के लिए जाती हैं, वह सभी उत्तर प्रदेश सीमा क्षेत्र से गुजरती थीं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के शहरों के लिए भी जो बस सेवाएं चलती थीं, वह भी रोक दी गईं।

बता दें कि, कोरोना संक्रमण दोबारा बढऩे के बावजूद उत्तराखंड ने अंतरराज्यीय बस संचालन बंद नहीं किया था। सरकार ने फिलहाल पूरे सूबे में कोविड कफ्र्यू लगाया हुआ है और इसमें निजी सार्वजनिक सवारी वाहनों का परिवहन प्रतिबंधित है। कफ्र्यू में रोडवेज बसों को संचालन की अनुमति है।

हालांकि, उत्तर प्रदेश के प्रतिबंध के दायरे में उत्तराखंड के गढ़वाल एवं कुमाऊं मंडल भी प्रभावित हो गए। दून व हरिद्वार से हल्द्वानी, नैनीताल, चंपावत, पिथौरागढ़ और बागेश्वर जाने वाली बसों को नजीबाबाद बिजनौर से होकर जाने नहीं दिया जा रहा।

कोटद्वार तक जाने वाली बसों को भी उत्तर प्रदेश ने अपने क्षेत्र से नहीं जाने दे रहा। इस स्थिति में गत शनिवार से केवल चंडीगढ़ व हिमाचल के पांवटा साहिब तक अंतरराज्यीय संचालन किया जा रहा था, लेकिन अब यह भी रोक दिया गया है। बसें अब हिमाचल बार्डर पर कुल्हाल तक जा रहीं

8 thoughts on “यूपी के बाद उत्तराखंड ने भी रोका अंतर्राज्यीय बस संचालन

  1. I was very pleased to find this web-site.I wanted to thanks for your time for this wonderful read!! I definitely enjoying every little bit of it and I have you bookmarked to check out new stuff you blog post.

Leave a Reply

Your email address will not be published.