मुख्यमंत्री तीरथ रावत ने देवप्रयाग का दौरा कर आपदा प्रभावितों को दिया ये बड़ा भरोसा

उत्तराखंड मौसम/आपदा
खबर शेयर करें

नई टिहरी। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने बुधवार को आपदा प्रभावित क्षेत्र देवप्रयाग पहुंच कर क्षति का जायजा लिया। उन्होंने प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता का भरोसा दिलाया। उन्होंने जिलाधिकारी को तत्काल क्षति का आगणन तैयार करने के निर्देश दिए। साथ ही आज ही अहेतुक सहायता प्रदान करने के लिए भी कहा है।

मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी को प्रभावितों को अनुमन्य सहायता जल्द ही उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। इसके अलावा मलवा हटाने के लिए आज ही जेसीबी लगाने को कहा है। कहा कि सरकार प्रभावितों के साथ खड़ी है। जरूरत पड़ने पर सरकार हर सम्भव मदद को आगे आएगी।

मुख्यमंत्री ने इसके उपरांत नवनिर्मित जीएमवीएन गेस्ट हाउस का निरीक्षण भी किया। उन्होंने डीएम को गेस्ट हाउस में कोविड केयर सेंटर बनाने की तैयारी शुरू करने के निर्देश दिए, ताकि क्षेत्र के संक्रमित व्यक्तियों का उपचार यहीं किया जा सके।

उन्होंने इसके उपरांत निर्माणाधीन तहसील भवन का निरीक्षण करते हुए आरडब्ल्यूडी को 2 माह के अंदर काम पूरा कर राजस्व विभाग को हैंड ओवर करने के सख्त निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के साथ कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल, आपदा प्रबंधन मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, विधायक विनोद कंडारी, जिलाधिकारी ईवा श्रीवास्तव, एसएसपी तृप्ति भट्ट  आदि कई अधिकारी मौजूद रहे।

बता दें कि गत दिन मंगलवार को देवप्रयाग बाजार के ऊपर दशरथ का डांडा में बादल फटने से शांता गदेरे में भारी मलबा, बोल्डर एवं पानी का सैलाब आने से भारी क्षति हुई। बादल फटने से नगर पालिका का 3 मंजिला बहुउद्देशीय भवन समेत कई भवन व दुकानें जमींदोज हो गयी।

देवप्रयाग बाजार को जोड़ने वाली पैदल पुलिया भी भ गयी थी। इसके अलावा बिजली की लाइन, पेयजल लाइन को भी भारी नुकसान हुआ। नगर पालिका भवन में निर्मित आईटीआई सीएससी सेंटर, इलेक्ट्रॉनिक, फर्नीचर आदि की कई दुकानें पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गई थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.