भूस्खलन प्रभावित तोताघाटी क्षेत्र के लिए वैकल्पिक मार्ग के रूप में इस मार्ग को किया जाएगा विकसित

उत्तराखंड मौसम/आपदा
खबर शेयर करें

देहरादून। आपदा नियंत्रण और आल वेदर रोड परियोजना के अंतर्गत नरेन्द्रनगर से होकर जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग के सम्बंध में कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि तोताघाटी क्षेत्र के वैकल्पिक मार्ग के रूप में कौडियाला से साकड़ीधार को विकसित किया जा रहा है।

सचिवालय में हुई बैठक में उन्होंने कहा कि कृषि, सिचाई, पेयजल और लिंक मार्ग के सम्बंध में सर्वे करके जल्द रिपोर्ट प्रस्तुत करें।
इस सम्बंध में दुर्घटना बाहुल्य टोताघाटी के वैकल्पिक मार्ग का सर्वे कर रिपोर्ट दी जाए। डीएम टिहरी के निर्देश दिया गया कि मुनिकीरेती और तपोवन में विद्युत लाइन शिफ्ट करने के लिये क्षेत्रीय ब्लॉक प्रमुख, एसडीएम, बीआरओ और एनएच के अधिकारियों की एक कमेटी बनाई जाए। डंपिंग ज़ोन से भी भूस्खलन का खतरा हो गया है ।

इसके प्रभाव से ग्रामो को बचाने के लिये टिहरी डीएम को एक कमेटी बनाने का निर्देश इस आशय से दिया कि इस कार्य का लागत आंकलित करके धन की मांग को रिपोर्ट दिया जा सके। बैठक में महत्वपूर्ण निर्देश देते हुए कहा गया कि जिनकी भूमि ली गई है उनके मुवावजा का भी तत्काल निस्तारण किया जाय।

बैठक में कहा गया कि चारधाम मार्ग और कुमाऊ-गढ़वाल को जोड़ने वाले सम्पर्क मार्ग के सम्बंध में इनका अधिकांश इलाका नरेन्द्रनगर के एन एच 58 और एनएच 98 से सम्बंधित है। आपदा के कारण इस इलाका के मार्ग अधिकांश क्षतिग्रस्त रहता है और भूस्खलन होता रहता है। इसलिये इन कार्यो को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाय। इस अवसर पर सचिव आपदा, डीएम टिहरी, पेयजल, बीआरओ, लोक निर्माण विभाग, एनएचएआई के अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.