बहुत दुःखद: उत्तराखंड में कोरोना वायरस अब तक लील चुका है 2500 से अधिक जिंदगियां

उत्तराखंड कोरोना वायरस देश-दुनिया
खबर शेयर करें

देहरादून। उत्तराखंड में आज कोरोना ने फिर पुराने रिकॉर्ड तोड़ दिए। आज राज्य के 13 ज़िलों में 24 घण्टे के भीतर 108 लोग मौत की नींद सो गए। जबकि 6054 नए पाए गए। राज्य में अब तक कोरोना से 2417 लोगों की मौत हो चुकी है।आज देहरादून में सर्वाधिक 2329 पॉजिटिव केस आये हैैं। 

मरने वालों का सिलसिला अभी भी जारी है, जो थमने का नाम नहीं ले रहा है। आज भी 85 लोग मौत का ग्रास बने हैं। इसको भी  मिला दें तो राज्य ने मरने वालों का आंकड़ा 2500 के पैर पहुँच गया है, जो चिंता का विषय है। 

इधर, लगातार संक्रमण बढ़ने से अब अस्पतालों में इलाज मिलना मुश्किल हो गया है। लोग एम्बुलेंस और घरों पर ही इलाज के लिए तड़प रहे हैं। अस्पतालों में कहीं बेड नहीं मिल पा रहे हैं।

लोगों का कहना है कि प्राईवेट अस्पताल मोटी रकम देने वालों को ही भर्ती कर रहे हैं। आम आफ्मी की जिंदगी से अस्पतालों को कोई सरोकार नहीं है। जो बेहद दुखद और इंसानियत को शर्मसार करने वाली बात है।

इसके अलावा मरने वालों का आंकड़ा बढ़ने से शमशान घाट पर अंतिम संस्कार करने में भी मुश्किलें उठनी पड़ रही है।

उत्तराखंड में कोरोना पूरी तरह से बेकाबू हो गया है। बुधवार को आज 6054 मामले सामने आए हैं। जबकि 108 लोगों की मौत हुई है।

बता दें कि प्रदेश में अब तक 1 लाख 68 हजार 616 कुल मरीज आ चुके हैं। अब तक 2417 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि मृतकों को कई अन्य गंभीर बीमारियां भी थीं।

राहत वाली खबर यह है कि आज 3485 रीकवर वाले घर लौटे हैं। अब प्रदेश में 45383 एक्टिव केस है।

आज देहरादून में 2329, हरिद्वार में 1178, अल्मोड़ा में 140, बागेश्वर में 128, चमोली में 175, चंपावत में 153, पौड़ी गढ़वाल में 174, नैनीताल में 665, पिहौरागढ़ में 51, रुद्रप्रयाग में 22, तेहरी गढ़वाल में 109, उधमसिंह नगर में। 841 और उत्तरकाशी में 81 मामले सामने आए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.