पहले फौज में रहकर की देश सेवा, अब राजनीति के जरिए बदलेंगे तस्वीर: कर्नल कोठियाल

उत्तराखंड राजनीति
खबर शेयर करें

देहरादून। नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के पूर्व प्राचार्य कर्नल (सेवानिवृत्त) नेे आज सोमवार को आम आदमी पार्टी (आप) का दामन थाम लिया। वह आप के उत्तराखंड नव निर्माण मुहिम का नेतृत्व करेंगे। कर्नल कोठियाल के आप पार्टी में शामिल होने पर उत्तराखंड की राजनीति में आप का दखल बढ़ गया है।

इस दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भाजपा और कांग्रेस पर बारीबारी से उत्तराखंड लूटने समेत कई गंभीर आरोप लगाए। कहा कि अब आप उत्तराखंड को देश के माथे का चंदन बनाकर आध्यात्मिक राज्य की कल्पना साकार करेगी।

कर्नल अजय कोठियाल केदारनाथ पुनर्निर्माण के बाद से देश और दुनिया मे चर्चाओं में आये। केदारनाथ में आपदा की महाप्रलय के बाद सांवरने में जो भूमिका निभाई, वह जगजाहिर है।

इसके अलावा उत्तराखंड में हजारों युवाओं को निशुल्क सेना की ट्रेनिंग दी गई। आज हजारों युवा सेना में भर्ती हो रहे हैं। इसके अलावा कर्नल कोठियाल के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय सीमा म्यामांर वर्मा में भारत सरकार के महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं।

वह कई सामाजिक कार्यों में जुटे हुए हैं, लेकिन राजनीतिक प्लेटफार्म न होने के कारण वह अपने मिशन को पूरा नहीं पा रहे थे। यही कारण है कि उनके पहले भाजपा, कांग्रेस, यूकेडी जैसे दलों में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही थी। लेकिन आखिर में कर्नल ने आप के दिल्ली मॉडल का अध्ययन कर आप का हाथ थाम लिया।

कर्नल ने सादगी के साथ थामा आप का दामन

कर्नल अजय कोठियाल के आप में शामिल होने को आम आदमी पार्टी तो खासी उत्साहित है। दावा किया जा रहा है कि कर्नल कोठियाल मिशन उत्तराखंड नव निर्माण से उत्तराखंड की तस्वीर बदलेंगे। ये आने वाला वक्त ही बताएगा कि वे राजनीतिक पारी में कितने सफल होते हैं।

देहरादून में कोवीड को देखते हुए कर्नल कोठियाल ने बेहद सरल समारोह में आप प्रभारी दिनेश मोहनिया की उपस्थित में आप की सदस्यता ली। सदस्यता ग्रहण कार्यक्रम देहरादून में होटल सॉलिटियर हरिद्वार बायपास रोड पर आयोजित किया गया।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कही ये बातें

इस दौरान वर्चुअली दिल्ली से आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री भी जुड़े। उन्होंने कर्नल को सच्चा सिपाही बताते हुए उत्तराखंड नवनिर्माण की बात कही। उन्होंने कहा आज उत्तराखंड में बेरोजगारी, पलायन जैसी बड़ी बड़ी समस्याएं हैं, जिन्हें पिछले 20 सालों से बीजेपी व कांग्रेस अपने भ्रष्टाचार से बदलना नहीं चाहती है।

उन्होंने कहा अब कर्नल के आने से आप इनके भ्रष्टाचार को बेनकाब करेगी और उत्तराखंड में बदलाव की नई तस्वीर तैयार करेगी। 20 साल पहले बनाए इस राज्य के लिए कई लोगों ने संघर्ष किया। अपना भविष्य दांव पर लगाया।

सिर्फ इस सपने को लेकर की अपना राज्य होगा, अच्छा अस्पताल होगा, अच्छी सड़कें, बिजली, रोजगार मिलेगा, यहां पहाड़ों में खुशहाली आएगी। इसके बावजूद आज कोई भी खुशहाल नहीं। पिछले 20 सालों से उत्तराखंड को कुछ नहीं मिला। स्कूल बंद हो रहे हैं।

पलायन ने गांव वीरान कर दिया। इसका जिम्मेदार कौन है सिर्फ बीजेपी और कांग्रेस। जिन्होंने 20 साल उत्तराखंड में आपसी सहमति से राज किया। दोनो के राज में कई बार नेताओं के भ्रष्टाचार के मामले आए, लेकिन आज तक किसी भी दल ने एक दूसरे की जांच नहीं की।

ये दोनों दल केवल मलाई खाना जानते हैं और जनता को लूटना जानते हैं। बीजेपी पर पलटवार करते केजरीवाल ने कहा कि चार साल बाद इन्होंने अपना मुख्यमंत्री बदल दिया। इन्होंने कोई काम नहीं किया। नया सीएम आया, उसने पुराने के फैसले बदल दिए। ये बीजेपी वाले उत्तराखंड के साथ मजाक कर रहे हैं क्या ?

उन्होंने कहा, उत्तराखंड का पानी और उत्तराखंड की जवानी अब बर्बाद नहीं होगी। उन्होंने उत्तराखंड की जनता से कहा कि आप अपने रिश्तेदारों से पूछो जो दिल्ली में रहते हैं वहां कैसी सुविधाएं मिलती है। आपको पता चल जाएग , मुझे कुछ कहने की जरूरत नहीं है ।

उन्होंने कहा कि हम मिलकर देवभूमि के विकास का नया मॉडल बनाएंगे। मैं इस देवभूमि की मिट्टी को दुनिया के माथे का तिलक बनाना चाहता हूं। क्योंकि यहां सारे संसाधन मौजूद हैं सिर्फ काम करने की नियत चाहिए।

इसके लिए हमने पूरी तैयारी भी कर दी। इस दौरान उन्होंने कर्नल अजय कोठियाल के साथ मिलकर उत्तराखंड नवनिर्माण मिशन की घोषणा भी की।

आप का दामन थामने पर कर्नल कोठियाल बोले

कर्नल कोठियाल ने बीते लोकसभा चुनावों में आखिरी समय में चुनाव ना लड़ने का फैसला किया था। जिसे आज उन्होंने आम आदमी में आने के बाद अपना सही फैसला बताया। कर्नल कोठियाल ने मंच से अपनी यादों को ताजा करते हुए कहा कि आज के ही दिन वह आर्मी ऑफिसर की ट्रेनिंग पास करके फौज में शामिल हुए और एक बेहतरीन पारी खेली।

आज उसी दिन फिर एक नई जिम्मेदारी को लेते हुए आप में शामिल होकर उत्तराखंड नव निर्माण की कसम खाई। उन्होंने कहा आज मेरे लिए बड़ा दिन है। सुबह सुबह मैं, मां गंगा में डुबकी लगा कर अपने दिन की शुरआत करके जब में लौट रहा था तो मेरी आंख लगी और मुझे सपनों में साक्षात केदारनाथ कपाट के दर्शन हुए।

कहा, जो मैने उस समय देखे थे जब केदारनाथ पुनर्निर्माण के लिए में वहां पहुंचा था। इसके अलावा उन्होंने अपने सेना के कई किस्से सुनाए। केदारनाथ आपदा के पलों को भी याद किया। उन्होंने नई पारी खेलने के लिए आप संयोजक अरविंद केजरीवाल और प्रभारी दिनेश मोहनिया का धन्यवाद अदा किया। इसके साथ जनता के समर्थन को भी कर्नल कोठियाल ने दिल से धन्यवाद दिया।

स्मृति चिन्ह किए भेंट

इस दौरान उन्होंने प्रदेश प्रभारी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को फौज का स्मृति चिन्ह के रूप में कुमाऊं और गढ़वाल रेजीमेंट के प्रतीक चिन्ह गब्बर सिंह प्रतिमा, शेर की प्रतिमा और गोरखा रेजिमेंट की खुखरी भेंट की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.