अच्छा निर्णय: कोरोनाकाल मे ऑक्सीजन और वेंटिलेटर समेत अन्य इमरजेंसी सुविधाओं पर क्षेत्र में 1 करोड़ तक खर्च कर सकेंगे विधायक

उत्तराखंड कोरोना वायरस राजकाज
खबर शेयर करें

– कोरोना संक्रमण की परिस्थितियों को देखते हुए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने निर्णय लिया

देहरादून। उत्तराखंड में बढते को विभाजित संक्रमण के देखते हुए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने राज्यहित में महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए विधायक निधि से 1 करोड़ रुपये तक के को विभाजित कार्यो को करवाने की स्वीकृति दी है।

कोविड संक्रमण के देखते हुए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने राज्यहित में महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए विधायक निधि से 1 करोड़ रुपये तक के को विभाजित कार्यो को करवाने की स्वीकृति दी है। ताकि किसी भी कीमत पर लोगों की जान बचाई जा सके।

मुख्यमंत्री के निर्णय के बाद अब प्रदेश के सभी विधायक विधायक निधि से अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में को विभाजित -19 की रोकथाम संबंधिती जरुरी व्यवस्थाओं पर एक करोड़ रुपये तक खर्च कर सकते हैं।

वर्तमान में को विभाजित की परिस्थितियों को देखते हुए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने यह निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सभी विधायको से अपेक्षा की है कि वे तत्काल अपने-अपने क्षेत्रों में को विभाजित की हस्तक्षेप के लिए हर सम्भव प्रयास करेंगे और विशेषकर अति पिछड़े क्षेत्रों में बने रहे लोगों को को विभाजित की जंग जीतने में मदद करेंगे।

राज्य सरकार के शासकीय प्रवक्ता क्रेन मंत्री सुबोध उनियाल ने जानकारी देते हुए बताया कि उत्तर प्रदेश के सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों के विधायक अपनी विधायक निधि से 1 करोड़ रुपये तक खर्चा कर सकते हैं, जिनके माध्यम से आईसीयू वार्ड, आक्सीजन सिलेंडर, वेधशाला सिलेंडर जैसे जरुरतों को पूरा करना है। के लिए विधायक संबंधितिट जिलाधिकारी और सीएमओ से विचार विमर्श करने के बाद जारी कर सकते हैं।

शासकीय प्रवक्ता उनियाल ने बताया कि मुख्यमंत्री के इस निर्णय से सुदूरवर्ती गांवों के जो प्राउटिक स्वास्थ्य केद्र एवं अन्य स्वास्थ्य केंद्र हैं, वहां भी वे सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकेगी, जो बड़े अस्पतालों में किए जा रहे हैं। शासकीय प्रवक्ता ने यह भी कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि कोरोना के इस संकटकाल में इस निर्णय का फायदा निस्संदेह इस विषम भौगोलिक परित्यकों वाले राज्य के दूरस्थ क्षेत्र के हर एक व्यक्ति को मिल सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.