धार्मिक, साहसिक और वेलनेस डेस्टीनेशन के तौर विकसित होगा टिहरी झील के ऊपर बसा मदन नेगी क्षेत्र

उत्तराखंड देश-दुनिया समाज-संस्कृति
खबर शेयर करें

टिहरी गढ़वाल। जनपद टिहरी गढ़वाल के विकास खंड प्रतापनगर और विश्व प्रसिद्ध टिहरी झील के ऊपर बसे मदन नेगी क्षेत्र को तीन आयामी पर्यटन का केंद्र बनाने के लिए पर्यटन विभाग की ओर से कवायत शुरू कर दी गई है। जिससे उत्तराखंड पर्यटन को बढ़ावा मिलने के साथ स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी सृजित किए जा सकें।

इस क्षेत्र को धार्मिक, साहसिक और वेलनेस डेस्टीनेशन के तौर पर विकसित करने के लिए पर्यटन विभाग के अधिकारियों ने कार्यदायी संस्था की टीम ने क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर स्थलीय निरीक्षण किया।

टिहरी जिले के समग्र विकास के लिए पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर के दिशानिर्देशों पर संबंधित विभाग के साथ कार्यदायी संस्था वैपकोस की 5 सदस्य टीम बीते तीन दिनों से स्थलीय निरीक्षण कर रही है। जिसके तहत आज मदन नेगी क्लस्टर का निरीक्षण किया गया।

गौरतलब है कि कोरोना के कम होते प्रकोप के बीच उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों को स्वच्छ और सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने के लिए ट्रेकिंग ट्रक्शन होम स्टे योजना के तहत टीम का गठन किया गया है।

उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद के निदेशक अवस्थापना ले.क. दीपक खण्डूड़ी ने बताया कि मदन नेगी क्लस्टर की प्राकृतिक, साहसिक, धार्मिक, ऐतिहासिक पर्यटन के साथ वेलनेस की अपार संभावनाएं देश-दुनिया के पर्यटकों को इस ओर आकर्षिक करेगी। इन सबके विकास के लिए स्थलीय निरीक्षण किया गया।

बताया कि वर्तमान में टिपरी से मदन नेगी तक बना रोपवे अभी फिलहाल ग्रामीणों की यातायात का साधन है। पुराने रोपवे का सौंदर्यीकरण करने के साथ मदन नेगी से धौलधार मदन नेगी मंदिर तक एक नया रोपवे का निर्माण किया जाएगा, जो इस क्षेत्र के सबसे ऊंचे स्थान पर होगा। जिसे पर्यटन की दृष्टि से तैयार किया जाएगा।

यहां बनने वाला नया रोपवे रोमांच और पर्यटन की नई संभावनाओं के द्वार खोलने वाला साबित होगा। इसके निर्माण के लिए बड़े पैमाने पर ढांचागत विकास होगा, जिससे मौजूदा क्षेत्रों की तस्वीर पूरी तरह बदल जाएगी। जबकि क्षेत्र का प्राचीन वटकेश्वर महादेव मंदिर और मदन नेगी मंदिर वेलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म डेस्टिनेशन के लिए सबसे उपयुक्त स्थान है।

यहां की प्राकृतिक और समृद्ध विरासत अनायास ही पर्यटन प्रेमियों को आकर्षित करेगी। जबकि भिलंगना नदी से सटे होने से इस क्षेत्र में जलक्रीड़ा के लिए भी अपार संभावनाएं हैं। यहां आने वाले पर्यटकों को बेहतर आवासीय सुविधा देने के लिए विभिन्न सरकारी विभागों के भवनों का भी सौंदर्यीकरण किया जाएगा।

इसके साथ ही स्थानीय लोगों की आस्था का सम्मान करते हुए मदन नेगी देवता की मूर्ति भी स्थापित की जाएगी। जिससे धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। स्थलीय निरीक्षण के दौरान क्षेत्रीय विधायक विजय सिंह पंवार समेत पर्यटन विभाग के अधिकारी और कार्यदायी संस्था के पदाधिकारी मौजूद रहे।

वर्ल्ड डेस्टिनेशन बनेगा प्रताप नगर का म्यूजियम

टिहरी जनपद के प्रतापनगर में राजमहल को पुरानी धरोहर के रूप में सुरक्षित किए जाने और वर्ल्ड डेस्टिनेशन म्यूजियम बनाने के लिए पर्यटन विकास की ओर से क्षेत्र में विकास कार्य किए जाएंगे। पर्यटन विभाग के अधिकारी कार्यदायी संस्था के पदाधिकारियों के साथ मिलकर स्थलीय निरीक्षण करेंगे।

8 thoughts on “धार्मिक, साहसिक और वेलनेस डेस्टीनेशन के तौर विकसित होगा टिहरी झील के ऊपर बसा मदन नेगी क्षेत्र

  1. Yesterday, while I was at work, my sister stole my iPad and tested to see if it can survive a 30 foot drop, just so she can be a youtube sensation. My iPad is now destroyed and she has 83 views. I know this is totally off topic but I had to share it with someone!

  2. Great – I should definitely pronounce, impressed with your website. I had no trouble navigating through all the tabs and related info ended up being truly simple to do to access. I recently found what I hoped for before you know it at all. Quite unusual. Is likely to appreciate it for those who add forums or anything, site theme . a tones way for your client to communicate. Excellent task..

  3. I was just searching for this info for some time. After 6 hours of continuous Googleing, finally I got it in your web site. I wonder what’s the lack of Google strategy that don’t rank this kind of informative websites in top of the list. Normally the top sites are full of garbage.

Leave a Reply

Your email address will not be published.