दुःखद: टिहरी में जंगली मशरूम खाने से नातिन समेत दादा-दादी की मौत

उत्तराखंड स्वास्थ्य
खबर शेयर करें

 

नई टिहरी। कई बार छोटी सी लापरवाही भारी पड़ सकती है। ऐसा ही एक मामला टिहरी में सामने आया है। टिहरी जिले के प्रताप नगर विकास खंड के शुक्री गांव में जंगली मशरूम खाने से बीमार दादा, दादी और उनकी पोती की एम्स ऋषिकेश में मौत हो गई। उन्हें हालत ज्यादा बिगड़ने पर बीती 16 अगस्त को एम्स ऋषिकेश लाया गया था। आज उन्होंने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

बता दें कि गत दिवस अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश सुंदरलाल सेमवाल (62) विमला देवी (56) और इनकी नातिन सलोनी (13) निवासी ग्राम शुक्री, विकास खंड प्रताप नगर, टिहरी गढ़वाल को भर्ती कराया गया था। जंगली मशरूम खाने से तीनों बीमार पड़ गए थे। एम्स आइसीयू में इनका उपचार चल रहा था। जहाँ तीनों की एम्स में मौत हो गई। पुलिस तीनों के शव का पोस्टमार्टम करा रही है।

बता दें कि बीती 12 अगस्त को इन्होंने अपने घर में रात के भोजन में जंगली मशरूम बनाया था, जिसे खाने के बाद उनकी तबीयत बिगड़ने पर उन्हें वहीं के स्थानीय चिकित्सक को दिखाया गया था। हालत ज्यादा गंभीर होने पर 16 अगस्त को एम्स लाया गया था।

85 thoughts on “दुःखद: टिहरी में जंगली मशरूम खाने से नातिन समेत दादा-दादी की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published.