उत्तराखंड में 25 मई तक बढ़ सकता है लॉकडाउन, कोविड अस्पतालों में मनमानी पर सख्त कार्रवाई के निर्देश

उत्तराखंड कोरोना वायरस देश-दुनिया
खबर शेयर करें

देहरादून। प्रदेश में कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए तीरथ सरकार प्रदेश में जारी कोरोना कर्फ्यू को एक हफ्ता और बढ़ाने जा रही है। अभी तक 18 मई तक प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू है किसको बढ़ाकर 25 मई तक किया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो सरकार कोविड कर्फ्यू को अगले हफ्ते 1 जून तक बढ़ाने का भी फैसला ले सकती हैं।

इसके अलावा शादियों में सभी के लिए आरटी पीसीआर टेस्ट नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की जा रही है। सरकार के प्रवक्ता सुबोध उनियाल के अनुसार इस सम्बंध में मुख्यमंत्री से चर्चा हो चुकी है और सैद्धांतिक सहमति भी मिल चुकी है।

अभी सरकार की कोशिश कोरोना की चेन तोड़ना है, जिसके लिए कम से कम एक हफ्ता और कर्फ्यू चाहिए। मौजूदा कर्फ्यू 18 मई की सुबह तक का है। मंत्री सुबोध ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू के आदेश को सिलसिलेवार आगे बढ़ाने का फैसला हो चुका है।

एक साथ लंबा कर्फ्यू लोगों को मानसिक तौर पर बेचैन करता है, इसलिए इसको हफ्तावार बढ़ाने का फैसला किया गया है। इस बीच यह भी देखा जाता रहेगा कि हालात कर्फ्यू हटाने लायक हुए कि नहीं।

मौजूदा कर्फ्यू और सख्ती के नतीजे 22-23 मई के बाद दिखाई देने शुरू होंगे। इसके बाद अगले हफ्ते भी कर्फ्यू और प्रतिबंध और रियायत को लेकर फैसला लिया जायेगा। हालांकि अभी के हालात फिलहाल ऐसे नहीं है कि कर्फ्यू को आगे ना बढ़ाने का फैसला करना पड़े।

उन्होंने कहा कि इस बारे में मुख्यमंत्री के साथ उनकी बातचीत हो चुकी है। वह भी इस बात को मानते हैं कि सख्ती हो और कर्फ्यू में फिलहाल ढील न दी जाए।

वहीं सरकार ने उन कोविड-19 अस्पतालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं, जो कोरोना से हुई मौतें छिपा रहे हैं।

साथ ही आयुष्मान और अन्य योजनाओं से आच्छादित लोगों और कर्मचारियों को या तो अपने यहां भर्ती नहीं कर रहे हैं या फिर कैशलेस के बजाय कैश लेकर इलाज कर रहे हैं, इन अस्पतालों को नहीं बख्शा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.