उत्तराखंड में दूसरे फेज के लॉकडाउन में होगी और सख्ती, E-Pass से ही होगी आवाजाही

उत्तराखंड कोरोना वायरस देश-दुनिया
खबर शेयर करें

देहरादून। कोराना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार आज 1 हफ्ते और कोविड कर्फ्यू बढ़ाने का निर्णय ले सकती है।  25 मई तक पूरे प्रदेश में कोविड कर्फ्यू लागू रहेेगा। यह जानकारी कैबिनेट मंत्री और शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने दी।

शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने कहा कि कोरोना की चेन तोड़ने के लिए 14 दिन का समय जरूरी है। इसलिए जब दूसरे फेज का कोविड कर्फ्यू लागू होगा तो कोराना के आंकडों में गिरावट देखने को मिलेगी।

सुबोध उनियानल ने कहा कि सख्ती के साथ ही दूसरे फेज का कोविड काफ्र्यू लागू होगा। जहां शादियों में शामिल होने वाले सभी लोगों को कोरोना की आरटीपीसीआर नेगिटिव रिपोर्ट अनिवार्य की गई है, वहीं आवश्यक कार्य पड़ने पर ई-पास लागू किया जाएगा। जिससे आवश्यक कार्य के लिए बाहर निकलने पर लोगाों को दिक्कत न हो।

उनियाल ने कहा कि कई बार देखने में आया है कि डेड बाॅडी को अंतिम संस्कार के लिए ले जाते समय चैकिंग तो नहीं हो रही है, लेकिन जब लोग अंतिम संस्कार कर वापस आ रहे है या कोई किसी के निधन पर शामिल होने जा रहा है तो उसे पूछताछ की जा रही है। इसलिए आवश्यक कार्य पड़ने पर ई-पास लागू किया जाएगा।

कोरोना कर्फ्यू को लेकर और क्या कुछ नए फैसले लिए जाने हैं इसके लिए मुख्यमंत्री के साथ आज मंत्रियों की बैठक आयोजित होगी जिसके बाद इस बात को लेकर फैसला कर दिया जाएगा कि कोई छूट दी जाएगी या नहीं।

11 thoughts on “उत्तराखंड में दूसरे फेज के लॉकडाउन में होगी और सख्ती, E-Pass से ही होगी आवाजाही

  1. Hello, i think that i saw you visited my web site thus i came to “return the favor”.I am trying to find things to enhance my web site!I suppose its ok to use some of your ideas!!

  2. Unquestionably believe that that you said. Your favourite reason seemed to be at the web the simplest factor to take note of. I say to you, I certainly get annoyed while folks consider worries that they just don’t understand about. You managed to hit the nail upon the top as smartly as defined out the whole thing without having side effect , folks can take a signal. Will probably be back to get more. Thanks

Leave a Reply

Your email address will not be published.