उत्तराखंड पेयजल निगम में डीपीसी के बाद 16 इंजीनियरों की अधिशासी अभियंता के पदों पर पदोन्नति के आदेश जारी

उत्तराखंड कर्मचारी हलचल
खबर शेयर करें

देहरादून। उत्तराखंड पेयजल निगम में रिक्त चल रहे अधिशासी अभियंता के पदों पर आखिरकार डीपीसी हो गई है। पदोन्नत अधिकांश वरिष्ठ सहायक अभियंता पिछले सात साल से अधिशासी अभियंता के पदों पर प्रभारी के रुप में कार्य कर रहे है थे। जिन्हें अब विधिवत ढंग से ईई के पदों पर वेतनमान 15600-39100, वेतन बैंड-3, ग्रेड वेतन 6600 में पदोंन्नत कर विधिवत तैनाती दी गई है। कुछ अभियंताओं को छोड़ बाकी अभियंताओं को जहां पर प्रभारी के तौर पर कार्यरत थे वहीं पर अधिशासी अभियंता बनाया गया हैै। कुछ अभियंता सेवानिवृत्ति की कगार पर हैं।

मंगलवार को पेयजल निगम के प्रबंध निदेशक उदयराज सिंह ने डीपीसी के बाद 16 वरिष्ठ सहायक अभियंताओं को अधिशासी अभियंता के पदों पर चयन के आदेश जारी किए हैं। लंबे समय से पदोन्नति की बाट जोह रहे सहायक अभियंताओं की मुराद अब पूरी हुई है। एई संवर्ग में तीन साल से कोई डीपीसी नहीं हुई थी। निर्माणा शाखा श्रीनगर में कार्यरत आरसी मिश्रा 7 साल से प्रभारी अधिशासी अभियंता के तौर पर काम कर रहे थे। जिन्हें अब जाकर पदोन्नति का लाभ मिला है। जबकि इनके साथ के कुछ अभियंताओं को पहले ही सांठ-गांठ के तहत उच्च पदों पर नियम विरुद्ध तैनाती दी गई है।

मंगलवार को डीपीसी के बाद जिन वरिष्ठ सहायक अभियंताओं को अधिशासी अभियंता के पदों पर प्रोन्नति दी गई है उनमें निर्माण एवं अनुरक्षण इकाई (गंगा) में प्रभारी परियोजना प्रबंधक के तौर पर कार्यरत एके चतुर्वेदी को इसी इकाई में पदोन्नत कर विधिवत रुप से परियोजना प्रबंधक बनाया गया है। वह इसी माह 30 जून को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। उनके साथ ही इसी इकाई में कार्यरत सहायक अभियंता आरके सिंह को भी पदोन्नत कर मुख्यालय में अधिशासी अभियंता बनाया गया है।

इसके अलावा निर्माण शाखा श्रीनगर में प्रभारी अधिशासी अभियंता के तौर पर कार्यरत आरसी मिश्रा को इसी शाखा में अधिशासी अभियंता के पद पर पदोन्नत कर विधिवत तैनाती दी गई है। जबकि नवनीत कटारिया को भी पदोन्नति के बाद निर्माण इकाई चंबा में ही परियोजना प्रबंधक का दायित्व सौंपा गया है। अरुण कुमार त्यागी को भी पदोन्नत कर निर्माण इकाई उधमसिंहनगर में ही परियोजना प्रबंधक बनाया गया है।

इसके साथ ही निर्माण इकाई देहरादून में कार्यरत सहायक अभियंता सुनील कुमार को मुख्यालय, शशि राणा को प्रधान कार्यालय से प्रधान कार्यालय, हिमांषू वर्मा को विश्व बैंक परियोजना इकाई हल्द्वानी, रामजी राम वर्मा को निर्माण शाखा रानीखेत, हरिश प्रकाश को निर्माण इकाई रानीखेत, विपिन्न कुमार रवि को निर्माण शाखा भिक्यासैंण, पंचानंद चौधरी को निर्माण शाखा खटीमा, मदन पुरी को निर्माण शाखा कर्णप्रयाग से निर्माण शाखा डीडीहाट में अधिशासी अभियंता के पद पर तैनाती दी गई है।

निर्माण शाखा अल्मोड़ा में कार्यरत केडी भट्ट को इसी शाखा में अधिशासी अभियंता बनाया गया है। जबकि वीके जोई जोशी को निर्माण इकाई हल्द्वानी और सुधरी कुमार को यांत्रिक शाखा हल्द्वानी में अधिशासी अभियंता का दायित्व दिया गया है।

1 thought on “उत्तराखंड पेयजल निगम में डीपीसी के बाद 16 इंजीनियरों की अधिशासी अभियंता के पदों पर पदोन्नति के आदेश जारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.