उत्तराखंड: दुल्हन को छोड़ने गए भाई समेत 5 युवकों की सरयू नदी में डूबने से मौत, गांव में मचा कोहराम

उत्तराखंड क्राइम
खबर शेयर करें

पिथौरागढ़। पिथौरागढ़ अल्मोड़ा की सीमा पर बहने वाली सरयू नदी में नहाने के दौरान 5 युवकों की दर्दनाक मौत हो गई है। मरने वालों में समाए युवकों में दुल्हन का सगा और चचेरा भाई भी शामिल है, जिससे दोनों परिवारों इस खुशी का माहौल मातम में बदल गया है, वही पूरे क्षेत्र में शोक की लहर है।

गत दिवस सेराघाट से एक बारात गणाई गंगोली के धौलियाइजर कूना गांव में गई थी। परंपरा के अनुसार दुल्हन के सगा व चचेरा भाई समेत तीन अन्य युवक दुल्हन को छोड़ने के लिए उसके ससुराल गए थे।

बुधवार की सुबह पांचों शेराघाट रामपुर से लगभग आधा किमी दूर बहने वाली सरयू नदी में नहाने चले गए। नदी की गहराई का अनुमान नहीं होने के कारण पांचों युवक डूबने लगे।

इस दौरान कुछ ग्रामीणों ने युवकों को रोते हुए देखा। दोनों ने तत्काल पुलिस को सूचना देते हुए नदी में उनकी तलाश शुरू की, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस वह आसपास के लोगों द्वारा रेस्क्यू अभियान चलाकर युवकों को नदी से बाहर निकाला। लेकिन तब तक सभी की मौत हो चुकी थी।

मृतकों की पहचान रवींद्र 15 वर्ष पुत्र गोकुल राम, साहिल 15 वर्ष पुत्र पूरन राम , मोहित 17 वर्ष पुत्र अशोक , राजेश 16 वर्ष पुत्र खीम राम , पीयूष 15 वर्ष पुत्र कृष्ण कुमार निवासी धौलियाइजर गांव कूना गणाई गंगोली के रूप में हुई। मृतकों में एक युवक दुल्हन के सगा और एक चचेरा भाई भी बताया जा रहा है। जबकि तीन अन्य युवक भी गांव के भी दुल्हन के भाई लगते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.