उपलब्धि: उत्तराखंड को 400 केबी डबल सर्किट श्रीनगर-श्रीनगर (पीएच) ट्रांसमिशन लाईन से मिलेगा करीब 19 करोड़ का राजस्व

उत्तराखंड देश-दुनिया
खबर शेयर करें

देहरादून। राज्य के सौर ऊर्जा परावर्तन ने उत्तराखंड लिमिटेड (पिटकुल) द्वारा 400 केवी डबल केबिन – (पी.एच.) का निर्माण किया है। पारेषण लाइन वर्ष 2016 में ऊर्जित की जाने वाली और पारेषण लाइन का निर्माण कुल 38.87 करोड़ है। ऑक्सीटेशन को नियंत्रित करने के बाद यह निश्चित रूप से स्वस्थ हो जाएगा।”

पिटकुल द्वारा वर्ष 2016 में उक्त पारेषण लाइन के transmission tariff (पारेषण दर) निर्धारण को केन्द्रीय विद्युत नियामक आयोग, नई दिल्ली के समक्ष पिटिशन दायर की गई थी।
केन्द्रीय विद्युत नियामक आयोग ने 20.04.2018 को पूर्व में उपरोक्त पारेषण लाइन का अंतरिम टैरिफ वर्ष 2016-17 से वर्ष 2018-19 तक कुल रुपए 14.26 करोड़ निर्धारित किया था।

साथ ही आयोग ने यह भी आदेश दिया गया था कि पिटकुल द्वारा उपरोक्त पारेषण लाइन का निर्माण अलकनंदा विद्युत परियोजना से राज्य को प्राप्त होने वाली विद्युत के लिए किया जाए तथा जब तक उपरोक्त पारेषण लाइन अंतर्राज्यीय ग्रिड से नहीं जुड़ती तब तक यूपीसीएल द्वारा उपरोक्त ट्रांसमिशन टैरिफ का भुगतान पिटकुल को किया जाएगा।

इसके बाद यूपीसीएल और पिटकुल द्वारा आयोग के समक्ष विभिन्न तथ्य प्रस्तुत किए गए। केंद्रीय विद्युत नियामक आयोग द्वारा 13.06.2021 को उपरोक्त पारेषण लाइन का अंतिम टैरिफ निर्धारण किया गया। उपरोक्त लाइन से वर्ष 2016-17 से वर्ष 2018-19 तक कुल रुपए 18.91 करोड़ का राजस्व प्राप्त होगा।

अपने आदेश में आयोग द्वारा 400 केवी डबल सर्किट श्रीनगर-श्रीनगर (पी.एच.) ट्रांसमिशन लाइन को अंतर्राज्यीय ग्रिड का भाग माना गया है तथा उपरोक्त लाइन के ट्रांसमिशन टैरिफ की वसूली अंतर्राज्यीय पारेषण प्रभार (ISTS charges pool) के तहत होना सुनिश्चित किया गया है।

 ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️उक्त आदेश के अंतर्गत इस पारेषण लाइन के ट्रांसमिशन टैरिफ की वसूली सीधा यूपीसीएल से ना होकर अब उत्तर क्षेत्र (Northern Region) के समस्त उपयोगकर्ताओं से होगी। जिसका सीधा-सीधा लाभ उत्तराखंड राज्य एवं राज्य के पारेषण निगम को होगा, जिससे उत्ततराखंड के उपभोक्ताओं पर विद्युत भार कम होगा साथ ही उच्च गुणवत्ता की विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित होगी।

बताया गया कि उक्त उपलब्धि को प्राप्त करने में सचिव ऊर्जा राधिका झा, प्रबंध निदेशक यूपीसीएल और पिटकुल एवं प्रभारी सचिव ऊर्जा डॉ। नीरज खारवाल का पूरा असर।

17 thoughts on “उपलब्धि: उत्तराखंड को 400 केबी डबल सर्किट श्रीनगर-श्रीनगर (पीएच) ट्रांसमिशन लाईन से मिलेगा करीब 19 करोड़ का राजस्व

Leave a Reply

Your email address will not be published.