उत्तराखंड का लाल आतंकी हमले में शहीद, सैन्य सम्मान के साथ विदा हुए रणबांकुरे रणवीर रावत

उत्तराखंड देश-दुनिया
खबर शेयर करें

हल्द्वानी। मणिपुर इम्फाल के सैलून में आतंकवादी हमले में शहीद असम राइफल के हवलदार रणवीर सिंह रावत का पार्थिव शरीर शुक्रवार की सुबह हल्द्वानी के चांदनी चौक बल्यूटिया स्थित आवास पर पहुंचा। पार्थिव शरीर घर पहुंचते ही परिवार में कोहराम मच गया।

मणिपुर इम्फाल के सैलून में आतंकवादी हमले में शहीद असम राइफल के हवलदार रणवीर सिंह रावत का पार्थिव शरीर शुक्रवार की सुबह हल्द्वानी के चांदनी चौक बल्यूटिया स्थित आवास पर पहुंचा। पार्थिव शरीर घर पहुंचते ही परिवार में कोहराम मच गया।

परिवार वालों के अंतिम दर्शन करने के बाद शव यात्रा रानीबाग स्थित चित्रशिला घाट के लिए निकली। जहां सैन्य सम्मान के साथ अंत्येष्टि कर की गई।

मूल रूप से चमोली जिले के थाला गांव निवासी रणवीर सिंह रावत 13 असम राइफल की बेम्बो कंपनी में हवलदार थे। इस समय उनकी तैनाती सैलून में थी। बढ़े भाई लक्ष्मण सिंग ने बताया क‍ि 27 जनवरी की सुबह इनकी टुकड़ी पेट्रोलिंग करके वापस लौट रही थी।

इसी दौरान उग्रवादियों ने टुकड़ी पर हमला कर दिया। दुश्मनों से लोहा लेते समय रणवीर सिंह बाएं पैर में दो गोलियां लगने से गंभीर रूप से घायल हो गए। साथी जवान उनको अस्पताल लेकर गए। जहाँ उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

715 thoughts on “उत्तराखंड का लाल आतंकी हमले में शहीद, सैन्य सम्मान के साथ विदा हुए रणबांकुरे रणवीर रावत

  1. Pingback: 2staccato