उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के बाद अब उत्तराखंड लोक सेवा आयोग की साल 2018 में हुई लेक्चरर भर्ती में गड़बड़ी का मामला प्रकाश में आया है।

उत्तराखंड क्राइम दिल्ली/अन्य राज्य शिक्षा-खेल
खबर शेयर करें

 

जनपक्ष टुडे ब्यूरो, देहरादून। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के बाद अब उत्तराखंड लोक सेवा आयोग की साल 2018 में हुई लेक्चरर भर्ती में गड़बड़ी का मामला प्रकाश में आया है। एक महिला अभ्यर्थी ने डीजीपी को शिकायत करते हुए आयोग के सदस्य पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है। डीजीपी ने देहरादून एसएसपी को जांच का जिम्मा सौंपा है।

उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा आयोग पेपर लीक (यूकेएसएस एससी) पेपर लीक मामले के बाद उत्तराखंड में पूर्व परीक्षाओं में फर्जीवाड़ा और धांधली की शिकायतें खुलकर सामने आ रही है। ऐसे ही उत्तराखंड लोक सेवा आयोग (यूकेपीएससी) की साल 2018 में हुई उत्तराखंड अधीनस्थ शिक्षा ‘प्रवक्ता संवर्ग- समूह ग’ (लेक्चरर) परीक्षा में एक महिला अभ्यर्थी ने आयोग के एक सदस्य पर गम्भीर आरोप लगाए हैं।

प्रवक्ता भर्ती में शामिल हुई

डीजीपी को शिकायती पत्र के साथ साथ सबूत भी सौंपा है. डीजीपी अशोक कुमार ने पूरे मामले की जांच देहरादून एसएसपी दलीप सिंह रावत को सौंप दी है.

जानकारी के मुताबिक, महिला का कहना है कि वर्ष 2018 में उत्तराखंड अधीनस्थ शिक्षा (प्रवक्ता संवर्ग- समूह ग) की लिखित परीक्षा पास करने के बाद उन्हें महिला व सामान्य वर्ग में साक्षात्कार के लिए चयनित किया गया. आरोप है कि साक्षात्कार के बाद आयोग के सदस्य ने उन्हें दस्तावेज दुरुस्त करने के नाम पर फोन किया और रुपयों की मांग की गई.

शिकायतकर्ता महिला ने जब लोक आयोग के आरोपित सदस्य से फोन पर बातचीत की तो सामने वाले ने महिला को आश्वासन देते हुए कहा कि आने वाली अन्य भर्तियों में उनका काम हो जाएगा. ऐसे में महिला ने इस तरह धोखाधड़ी की शिकायत देहरादून एसएसपी और डीजीपी अशोक कुमार को मोबाइल व्हाट्सएप के माध्यम से एक फोन बातचीत का ऑडियो क्लिप सहित शिकायत पत्र भेजा है. मामले की गंभीरता को देखते हुए पूरे प्रकरण की जांच डीजीपी अशोक कुमार ने देहरादून एसएसपी दलीप सिंह रावत को सौंपी है.

1 thought on “उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के बाद अब उत्तराखंड लोक सेवा आयोग की साल 2018 में हुई लेक्चरर भर्ती में गड़बड़ी का मामला प्रकाश में आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.