उत्तरकाशी के डीडीओ पर महिला जेई ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप, पीड़िता ने पुलिस को दी तहरीर, घटना से क्षुब्ध स्थानीय लोगों ने की आरोपी की जल्द गिरफ्तारी की मांग

उत्तराखंड क्राइम
खबर शेयर करें

उत्तरकाशी।  उत्तरकाशी के जिला विकास अधिकारी (डीडीओ) पर एक मनरेगा महिला जेई  (जूनियर इंजीनियर) पर ट्रांसफर का दबाव बनाकर छेेेेेड़छाड़ का आरोप लगा है। महिला ने पुरोला थाने में डीडीओ के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। पुलिस ने महिला की तहरीर पर जांच शुरू कर दी है। घटना से क्षुब्ध स्थानीय लोगों ने आरोपी डीडीओ के खिलाफ मुकदमा  दर्ज कर जल्द गिरफ्तारी की मांग की है।

पुरोला पुलिस के अनुसार क्षेत्र की एक महिला खंड विकास कार्यालय पुरोला में मनरेगा के तहत कनिष्ठ अभियंता के पद कार्य करती है। आरोप है कि गत 23 अगस्त को उत्तरकाशी के आरोपी डीडीओ विमल कुमार पुरोला पहुंचे। जहां देर शाम जेई को बुलाते हुए कहा कि उसका ट्रांसफर का मामला है। डीडीओ ने महिला जेई को पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में मिलने को कहा।

 

पुलिस को दी गई तहरीर के अनुसार महिला जेई मंगलवार सुबह 9 बजे गेस्ट हाउस में गई। जहां आरोपी डीडीओ मिले। आरोप है कि डीडीओ ने महिला जेई का जबरन हाथ पकड़ते हुए यौन सम्बन्ध बनाने का दबाव बनाया। महिला जेई ने विरोध किया तो आरोपी ने जबरन पकड़ना चाहा, लेकिन किसी तरह महिला जेई भागकर निकल आई।

इसके बाद मानसिक तनाव में आई महिला जेई ने परिजनों को आपबीती सुनाई। इस पर महिला जेई ने पुरोला थाना पहुंचकर आरोपी डीडीओ विमल कुमार के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए लिखित तहरीर दी है। पुलिस ने तहरीर लेते हुए जांच शुरू कर दी है। मामले को लेकर स्थानीय लोगों में भारी रोष है। लोग आरोपी की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। पुरोला के थानेदार ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी है। जल्द कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.