अगले साल की आखिरी तिमाही तक अपना देहरादून स्मार्ट बन जाएगा।

देश-दुनिया
खबर शेयर करें


शहरी विकास विभाग ने इसके लिए कमर कस ली है। स्मार्ट सिटी लिमिटेड को जहां कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं, वहीं सभी कार्यों की समयसीमा भी तय कर दी गई है।

इस निर्धारित समय के भीतर देहरादून को स्मार्ट बनाने का काम हो रहा है। शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक के मुताबिक, वर्ष 2021 तक स्मार्ट सिटी के ज्यादातर काम धरातल पर लाने का मकसद रखा गया है। शहरी विकास सचिव शैलेश बगोली के मुताबिक प्राथमिकता के आधार पर स्मार्ट सिटी के काम किए जा रहे हैं।

कौन से खास काम होंगे:
30 इलेक्ट्रिक बसें दौड़ेंगी : शहर में इलेक्ट्रिक बसों के संचालन का काम शुरू हो गया है। इसके तहत एक बस देहरादून आ चुकी है। वर्ष 2030 तक 30 बसें देहरादून में चलनी शुरू हो जाएंगी। इन बसों के लिए शहर में चार्जिंग स्टेशन बनाने का काम किया जा रहा है।

ग्रीन बिल्डिंग : 187 करोड़ की लागत से कलेक्ट्रट परिसर में एक दिसंबर 2021 तक ग्रीन बिल्डिंग बनाने का प्रस्ताव है। यह छह मंजिला इमारत होगी, जिसमें सभी जिला स्तरीय दफ्तर होंगे। इसका काम जल्द शुरू होने की उम्मीद है।

100 फीट का तिरंगा : दिलाराम चौक पर 100 फीट का तिरंगा दून की शान बढ़ाएगा। तिरंगा लगाने का काम अंतिम चरण में है। इसके लिए इसी साल 19 दिसंबर की तिथि तय की गई है।

ड्रेनेज प्लान : रेसकोर्स चौक से बन्नू स्कूल चौक तक और सहारनपुर चौक से भंडारीबाग नाले तक ड्रेनेज कार्य किया जाएगा। इसका डिजाइन पूरा हो चुका है। अगले साल एक अक्तूबर तक यह निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

ये काम भी होंगे:
सीवर प्लान : शहर में पांच प्रमुख जगहों पर सीवर का काम होगा। इसके तहत पलटन बाजार में घंटाघर से दर्शनी गेट तक, परेड ग्राउंड के तीनों ओर, दर्शन लाल चौक से गांधी रोड होते हुए सहारनपुर चौक तक, तिलक रोड होते हुए सहारनपुर चौक तक, लूनिया मोहल्ला मजार वाली गली से सहारनपुर चौक तक अगले साल एक सितंबर तक काम पूरा होगा। इससे बरसात में ओवरफ्लो की समस्या खत्म हो जाएगी।

स्मार्ट पोल : दस किलोमीटर से अधिक ओएफसी केबल, 30 मीटर ऊंचाई के 70 और 12 मीटर ऊंचाई के 60 पोल लगाए जाएंगे। वाईफाई प्वाइंट 30, सीसीटीवी 20, स्मार्ट एलईडी 60 लगेंगे। इनका काम तेजी से चल रहा है।

मॉडर्न दून लाइब्रेरी : लैंसडोन चौक के सामने यह लाइब्रेरी बनाई जा रही है। इसका काम अगले साल 15 नवंबर तक पूरा होना है। इस अत्याधुनिक लाइब्रेरी में 500 छात्रों के पढ़ने की सुविधा होगी। छोटे बच्चों के लिए किड जोन होगा। ई-रीडिंग की भी व्यवस्था होगी।

स्मार्ट टॉयलेट : सात सितंबर 2024 तक शहर में कलेक्ट्रेट परिसर, दून अस्पताल, परेड ग्राउंड, आईएसबीटी और निरंजनपुर सब्जी मंडी में स्मार्ट टॉयलेट बनेंगे। इसके अलावा स्मार्ट स्कूल सहित कई और महत्वपूर्ण काम होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.